Sunday, June 16, 2024

साथी हाथ बढ़ाना

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_img

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 5

“साथी हाथ बढ़ाना” कविता हमें मिल-जुलकर काम करने और बेहतर भविष्य के लिए सहयोग करने की प्रेरणा देती है. यह साझा लक्ष्यों को प्राप्त करने में एकता और सामूहिक प्रयास के महत्व को रेखांकित करती है.

मुख्य बिंदु:

  • एकता ही शक्ति: कविता इस विचार को उजागर करती है कि अकेले व्यक्ति ज्यादा कुछ हासिल नहीं कर सकता, लेकिन साथ मिलकर काम करने से बहुत कुछ हासिल किया जा सकता है. “एक अकेला कारीगर थक जाएगा” जैसे रूपकों का प्रयोग इस बात को समझाने के लिए किया गया है.
  • राष्ट्र निर्माण के लिए एकता: स्वतंत्रता के बाद के भारत के संदर्भ में कविता लोगों से एकजुट होकर एक मजबूत राष्ट्र बनाने की अपील करती है. यह सभी को राष्ट्र की प्रगति में भाग लेने और योगदान करने का आग्रह करती है.
  • चुनौतियों से पार पाना: कविता स्वीकार करती है कि रास्ते में कठिनाइयाँ और बाधाएँ आएंगी. हालांकि, यह व्यक्तियों को इन चुनौतियों का एक साथ सामना करने और एकता से ताकत हासिल करने के लिए प्रोत्साहित करती है. “मिलजुल कर हर मुश्किल पार हो सकेगी” एक महत्वपूर्ण संदेश है.
  • विविधता का उत्सव: कविता स्वीकार करती है कि व्यक्ति अलग-अलग पृष्ठभूमि से आते हैं और उनकी अलग-अलग प्रतिभाएँ होती हैं. हालांकि, यह इस बात पर जोर देता है कि ये अंतर बाधाएँ नहीं बल्कि संयुक्त होने पर ताकत बन जाते हैं.

कुल मिलाकर, “साथी हाथ बढ़ाना” एक आह्वान है, जो व्यक्तियों से अपने मतभेदों को दूर रखने और एक साझा लक्ष्य के लिए मिलकर काम करने का आग्रह करती है. यह एक बेहतर भविष्य के निर्माण में एकता और सहयोग की शक्ति पर जोर देती है|

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 5

प्रश्न 1: गीत से

1. “साथी हाथ बढ़ाना” कविता का मुख्य संदेश क्या है?

उत्तर: यह कविता हमें मिल-जुलकर काम करने और एकजुट होकर रहने का संदेश देती है। अकेले काम करने से हम कम हासिल कर सकते हैं, लेकिन साथ मिलकर हम बड़ी-बड़ी बाधाओं को भी पार कर सकते हैं और बेहतर भविष्य बना सकते हैं।

2. कविता में किन चुनौतियों का उल्लेख किया गया है? हम उन पर कैसे विजय पा सकते हैं?

उत्तर: कविता में कठिनाइयों और बाधाओं का उल्लेख किया गया है। इन पर विजय पाने के लिए हमें एकजुट होना चाहिए, साथ मिलकर काम करना चाहिए और हार न मानने का हौसला रखना चाहिए।

3. “अपना दुख भी एक है साथी, अपना सुख भी एक” पंक्ति का क्या अर्थ है?

उत्तर: इसका अर्थ है कि हम सब मिलकर एक समुदाय के रूप में रहते हैं। खुशी और दुख हमारा साझा अनुभव है। जब हम मिलकर खुशियाँ मनाते हैं तो वे बढ़ जाती हैं और जब हम मिलकर दुख दूर करते हैं तो वे कम हो जाते हैं।

प्रश्न 2: गीत से आगे

1. कविता में किन रूपकों का प्रयोग किया गया है? इनका क्या महत्व है?

उत्तर:

  • “एक अकेला कारीगर थक जाएगा” – यह रूपक एकजुट होकर काम करने के महत्व को दर्शाता है। अकेले काम करने वाला थक जाएगा, लेकिन साथ मिलकर काम करने से बोझ हल्का हो जाता है और लक्ष्य तक पहुंचना आसान हो जाता है।
  • “एक से एक मिलकर कतरा कतरा, बन जाता है दरिया” – यह रूपक छोटे-छोटे प्रयासों को मिलाकर बड़ी चीजें हासिल करने के महत्व को दर्शाता है। जैसे छोटी-छोटी बूंदें मिलकर नदी बनाती हैं, वैसे ही हमारे छोटे-छोटे प्रयास मिलकर बड़ा लक्ष्य हासिल कर सकते हैं।

2. आप अपने दैनिक जीवन में एकता और सहयोग का अभ्यास कैसे कर सकते हैं?

उत्तर:

  • घर के कामों में अपने माता-पिता की मदद करना।
  • स्कूल में सहपाठियों के साथ मिलकर प्रोजेक्ट करना।
  • अपने आस-पास की सफाई रखने में मदद करना।
  • जरूरतमंद लोगों की सहायता करना।

प्रश्न 3: कहावतो की दुनिया

1. “साथी हाथ बढ़ाना” कविता में यह पंक्ति आती है, “एक अकेला कारीगर थक जाएगा, मिलकर बोझ उठाना।” इसे “एक अकेला थक जाएगा, मिलकर बोझ उठाना” कहावत से कैसे जोड़ा जा सकता है?

उत्तर: दोनों ही बातें एक ही विचारधारा को दर्शाती हैं। कहावत कहती है कि एक व्यक्ति अकेले बोझ उठाकर थक जाएगा, जबकि कविता कहती है कि अकेला कारीगर थक जाएगा। दोनों का मतलब है कि कोई भी बड़ा काम अकेले करना मुश्किल होता है, लेकिन मिलकर काम करने से बोझ हल्का हो जाता है और लक्ष्य तक पहुंचना आसान हो जाता है।

2. “अपना दुख भी एक है साथी, अपना सुख भी एक” पंक्ति को “संगठन में बल है” कहावत से कैसे जोड़ा जा सकता है?

उत्तर: यह दोनों वाक्य इस बात पर जोर देते हैं कि एकजुट होकर रहने की ताकत है। कहावत कहती है कि संगठन में बल होता है, यानी समूह के रूप में कार्य करने से अधिक शक्ति मिलती है। कविता में यह विचार व्यक्त किया गया है कि हम सब साझा सुख-दुख रखते हैं। जब हम खुशियाँ मिलकर मनाते हैं तो वे बढ़ जाती हैं, और दुख मिलकर दूर करते हैं तो वे कम हो जाते हैं। दोनों ही मानते हैं कि एकजुट होने से ही हम बड़ी चुनौतियों का सामना कर सकते हैं और बेहतर जीवन जी सकते हैं।

साथी हाथ बढ़ाना गीत से जुड़ी कुछ कहावतें और उनके अर्थ:

1. एकता में शक्ति है:

  • अर्थ: जब हम मिलकर काम करते हैं, तो हम अकेले काम करने की तुलना में अधिक हासिल कर सकते हैं।
  • गीत में उदाहरण: “एक दूजे का हाथ थामकर हम चलेंगे साथी।”

2. मिलजुल कर हर मुश्किल पार हो सकेगी:

  • अर्थ: यदि हम एकजुट होकर काम करते हैं, तो कोई भी मुश्किल हमें हरा नहीं सकती।
  • गीत में उदाहरण: “मिलजुल कर हर मुश्किल पार हो सकेगी।”

3. एक से एक मिलकर कतरा कतरा, बन जाता है दरिया:

  • अर्थ: छोटे-छोटे प्रयासों को मिलाकर, हम बड़े लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।
  • गीत में उदाहरण: “बूँद बूँद से बनता है सागर, सागर से बनती है नदी।”

4. संगठन में बल है:

  • अर्थ: जब हम एकजुट होते हैं, तो हम अधिक शक्तिशाली बन जाते हैं।
  • गीत में उदाहरण: “साथी हाथ बढ़ाना।”

5. एक अकेला थक जाएगा, मिलकर बोझ उठाना:

  • अर्थ: जब हम मिलकर काम करते हैं, तो काम आसान हो जाता है।
  • गीत में उदाहरण: “भारी बोझ को मिलकर उठाना।”

6. अपना दुख भी एक है साथी, अपना सुख भी एक:

  • अर्थ: हम सब एक दूसरे से जुड़े हुए हैं, और हमें एक दूसरे का सहारा देना चाहिए।
  • गीत में उदाहरण: “अपना दुख भी एक है साथी, अपना सुख भी एक।”

7. मिलकर काम करना:

  • अर्थ: जब हम मिलकर काम करते हैं, तो हम अधिक कुशलता से काम कर सकते हैं।
  • गीत में उदाहरण: “मिलकर काम करना।”

8. एक दूसरे का साथ देना:

  • अर्थ: जब हम एक दूसरे का साथ देते हैं, तो हम मुश्किलों का सामना कर सकते हैं।
  • गीत में उदाहरण: “एक दूसरे का साथ देना।”

9. मिलजुल कर रहना:

  • अर्थ: जब हम मिलजुल कर रहते हैं, तो हम एक खुशहाल समाज बना सकते हैं।
  • गीत में उदाहरण: “मिलजुल कर रहना।

प्रश्न 4 : भाषा की बात

1.शब्दों के प्रचलित रूप लिखो

उत्तर:

  • साथी: साथी, साथी, साथियों
  • हाथ: हाथ, हाथ, हाथों
  • बढ़ाना: बढ़ाना, बढ़ाना, बढ़ाते
  • मिलजुल: मिल-जुल कर, मिलजुलकर, मिलकर
  • हर: हर, हर, सभी
  • मुश्किल: मुश्किल, मुश्किलें, मुश्किलों
  • कतरा: कतरा, कतरा, कतरों
  • बनना: बनना, बनना, बनते
  • दरिया: दरिया, दरिया, दरियाओं
  • सागर: सागर, सागर, सागरों
  • नदी: नदी, नदी, नदियों
  • बूँद: बूंद, बूंद, बूंदों
  • भारी: भारी, भारी, भारीपन
  • बोझ: बोझ, बोझ, बोझों
  • उठाना: उठाना, उठाना, उठाते
  • अपना: अपना, अपना, अपना
  • दुख: दुख, दुख, दुखों
  • सुख: सुख, सुख, सुखों
  • एक: एक, एक, एक

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 5

FAQ’s

“साथी हाथ बढ़ाना” कहानी में लेखक ने किस प्रकार की स्थितियों को प्रस्तुत किया है?

“साथी हाथ बढ़ाना” कहानी में लेखक ने विभिन्न स्थितियों को प्रस्तुत किया है जहाँ मिलजुल कर काम करने से समस्याओं का समाधान संभव हो सका है। ये स्थितियाँ हमारे दैनिक जीवन में भी लागू होती हैं।

कक्षा 6 हिंदी अध्याय 5 में सहयोग और एकता का क्या महत्व है?

कक्षा 6 हिंदी अध्याय 5 में सहयोग और एकता का महत्व बहुत अधिक है। यह हमें सिखाता है कि जब लोग एकजुट होकर काम करते हैं, तो वे असंभव कार्यों को भी संभव बना सकते हैं और कठिन परिस्थितियों से बाहर निकल सकते हैं।

“साथी हाथ बढ़ाना” पाठ में किस प्रकार की भाषा का प्रयोग किया गया है?

“साथी हाथ बढ़ाना” पाठ में सरल और प्रेरणादायक भाषा का प्रयोग किया गया है, जो छात्रों को आसानी से समझ में आती है और उन्हें सहयोग और एकता के महत्व को गहराई से महसूस करने में मदद करती है।

इस पाठ से छात्रों को कौन-कौन सी जीवन-मूल्य सीखने को मिलते हैं?

इस पाठ से छात्रों को सहयोग, एकता, सामूहिक प्रयास, और आपसी समर्थन जैसे जीवन-मूल्य सीखने को मिलते हैं। ये मूल्य उनके व्यक्तिगत और सामाजिक जीवन में बहुत महत्वपूर्ण हैं।

“साथी हाथ बढ़ाना” कहानी का मुख्य उद्देश्य क्या है?

“साथी हाथ बढ़ाना” कहानी का मुख्य उद्देश्य छात्रों को यह सिखाना है कि एकजुट होकर काम करने से कठिनाइयों का समाधान किया जा सकता है और सामूहिक प्रयासों से हम लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_imgspot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here